राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग ने पूर्णिया की घटना पर जारी किया नोटिस

नई दिल्ली. बिहार का पूर्णिया जिला इन दिनों चर्चा का विषय बना हुआ है. यहां के बायसी थाना के मझुवा गांव में सैंकड़ों लोगों की भीड़ ने महादलित बस्ती को आग के हवाले कर दिया. इस घटना में कई घर जलकर खाक हो गए. यही नहीं इस घटना के दौरान एक व्यक्ति को भीड़ ने पीट पीट कर मार डाला. इस घटना को अंजाम देने वालो की अब खैर नहीं होगी.

बिहार में डॉक्टरों की हो रही कमी, नई नियुक्तियों के लिए URDA ने उठाई मांग

दरअसल इस मामले पर अब राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग ने संज्ञान लिया है. आयोग ने इस मामले पर संज्ञान लिया है. आयोग ने मामले के संदर्भ में बिहार के चीफ सेक्रेट्री, पुलिस महानिदेशक, पूर्णिया के मजिस्ट्रेट और एसपी पुलिस पूर्णिया को नोटिस जारी किया है. इस विभत्स घटना की जांच पर आयोग की पूरी नजर होगी.

इस संदर्भ में कमिशन की ओर से संबंधित विभागों से 24 घंटे के भीतर जवाब मांगा गया है. सभी विभागों को 24 घंटों में बताना होगा कि इस मामले पर अबतक विभाग की ओर से क्या कार्रवाई की गई है.

आयोग अध्यक्ष ने लिया संज्ञान

इस मामले पर राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष विजय सांपला ने कहा कि पूर्णिया जिले के विशेष समुदाय की बस्ती में आग लगाने की घटना बेहद गंभीर और चिंताजनक है. उन्होंने आगे कहा कि आयोग अनुसूचित जाति के लोगों को न्याय दिलाने के लिए प्रतिबद्ध है. इसी कड़ी में संबंधित विभागों के अधिकारियों से रिपोर्ट मांगी गई है. आयोग को तय समय पर रिपोर्ट न देने की सूरत में अधिकारियों को नोटिस जारी कर उन्हें आयोग के समक्ष पेश होने के आदेश भी दिए जा सकते हैं.

ये है पूरा मामला

ये मामला 19 मई की रात का बताया जा रहा है. एक पक्ष के सैंकड़ो लोग मझुवा गांव की महादलित बस्ती में पहुंचे. उन्होंने बस्ती के स्थानीय लोगों पर अचानक हमला बोल दिया. हमले के बाद दोनों पक्षों में झड़प हो गई. जो कुछ ही समय बाद हिंसक और खूनी हो गई. इस झड़प में पूर्व चौकीदार नेवालाल राय की मौत हो गई. यही नहीं इस दौरान एक दर्जन से अधिक ग्रामीणों के घायल होने की भी खबर है. वहीं गांव में तैनात चौकीदार दिनेश राय हमले में गंभीर रुप से घायल है.

बिहार में 15 लाख के विदेशी शराब के साथ तीन लोग गिरफ्तार..

जानकारी है कि हमला करने वाले पक्ष ने महादलित के मुझवा गांव के एक दर्जन से अधिक घरों को आग लगा दी. इस आग पर काबू पाने के लिए फायर ब्रिगेड की कई गाड़ियों को बुलाया गया. ये आग इतनी भयंकर थी कि फायर ब्रिगेड की गाड़ियों ने कई घंटों की मशक्कत के बाद इसपर काबू पाया. वहीं इस आग में कई निर्दोष मवेशी भी जलकर मर गए.

बिहार में बाढ़ से तबाही, 13 लाख लोग प्रभावित

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक शाम को दोनों पक्षों में आंगन में टटिया लगाने को लेकर विवाद हुआ था. इस विवाद के बाद रात 10-11 बजे सैंकड़ों की संख्या में असामाजिक तत्वों ने लाठी व तलवार से लैस होकर मझुआ गांव के महादलित टोला में हमला बोल दिया था.

यहां देखें विभत्स घटना का वीडियो

The Depth

TheDepth is India's own unbiased digital news website.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: