परिणाम में गड़बड़ी की शिकायत करने गए युवाओं पर लाठीचार्ज

नई दिल्ली. युवाओं को नौकरी दिए जाने का वादा कर सत्ता में आई नीतिश कुमार सरकार लगातार घिरे जा रही है. मंगलवार को पटना में शिक्षक अभ्यार्थियों पर लाठीचार्ज किया गया. इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना को लेकर शिक्षक अभ्यार्थियों में काफी रोष है.

शिक्षक भर्ती के लिए लाखों अभ्यार्थियों को इंतजार

दरअसल बिहार के शिक्षा मंत्री ने खुद बयान देकर कहा था कि STET पास अभ्यार्थी शिक्षक भर्ती में शामिल होंगे. शिक्षक अभ्यार्थी शिक्षक भर्ती के लिए जारी की गई मेरिट लिस्ट में अनियमितताओं को लेकर पटना की सड़कों पर विरोध कर रहे थे.

बिहार में उर्दू अनुवादकों का सरकार के खिलाफ फूटा गुस्सा

इसी दौरान सरकार के आदेश पर आंदोलन कर रहे युवाओं पर लाठीचार्ज किया गया. सरकार ने इस लाठीचार्ज के जरिए अपनी अक्षमता और संवेदनहीनता का प्रदर्शन किया है. यूथ फॉर स्वराज सरकार ने भी इस ओछी हरकत का विरोध किया है और सरकार की निंदा की है.

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी ने शुरु किया नया कोर्स, 5000 को मिलेगी नर्सिंग ट्रेनिंग

बता दें कि प्रदर्शन के जरिए शिक्षक अभ्यार्थी STET 2019 के परीक्षा परिणाम में गड़बड़ी की आशंका जाहिर कर रहे थे. अभ्यार्थियों का अधिकार है आंदोलन के जरिए अपनी बात रखना. वहीं सरकार के आदेश पर अभ्यार्थियों पर किए गए लाठीचार्ज में कई अभ्यार्थी घायल हुए है. लाठी के बल पर सरकार अभ्यार्थियों के उत्साह को कुचलने की कोशिश में लगी हुई है.

बहाली में देरी पर बिहार शिक्षक अभ्यर्थियों ने की भूख हड़ताल, ट्विटर पर भी हल्ला बोल

सरकार की कोशिश है कि लाठीचार्ज कर परिणाम में हुई धांधली पर पर्दा डाल दिया जाए. यूथ फॉर स्वराज एम्प्लॉयमेंट फ्रेंट के संयोजक अंकित त्यागी ने बताया कि बिहार सरकार युवा अभ्यार्थियों को परेशान करने के उद्देश्य से बेशर्मी की सभी हदों को पार कर रही है. सबसे पहले सरकार भर्ती प्रक्रिया को लटकाती है.

सालों से इस इंतजार में है अतिथि अध्यापक

उन्होंने कहा कि संघर्ष के दबाव में परिणाम घोषित कर भी दे तो उसमें पारदर्शिता नहीं होती है. अनियमितताओं संबंधित सवाल पुछे जाने पर शिक्षा मंत्री सीधे जवाब भी नहीं देते है. उनके जवाब संतोषजनक नहीं होते. एक तरफ युवा आंदोलन करते रहते हैं और उनके समाधान मिलने की जगह उनपर लाठी और डंडे बरसाए जाते है. –

The Depth

TheDepth is India's own unbiased digital news website.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: