फिर बंद हो सकती है जामा मस्जिद : शाही इमाम

  • शाही इमाम के कार्यालय के एक अधिकारी ने कहा कि मंगलवार रात को बुखारी ने जामा मस्जिद को अस्थायी रूप से बंद करने पर लोगों की राय मांगी थी.
  • सभी धार्मिक स्थलों को वापस 8 जून के बाद खोला गया था, जब अनलॉक-1 का फेज-1 शुरू हुआ था

नई दिल्ली. दिल्ली में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ते जा रहे हैं. कोरोना के बढ़ते कहर को देखते हुए अब जामा मस्जिद को एक बार दोबारा से बंद किया जा सकता है. कोरोना संक्रमण के कारण अस्थायी रूप से जामा मस्जिद बंद हो सकती है. इस बात की संभावना खुद शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने दी है.  

दो दिन पहले ही देशव्यापी लॉकडाउन में ढील मिलने के कारण मस्जिद को खोला गया था. इस संबंध में शाही इमाम ने कहा “मैंने अन्य छोटी मस्जिदों से भी लोगों से घर पर नमाज अदा करने की अपील करने का आग्रह किया है. सभी तरह के सामाजिक समारोहों से लोगों को दूर रहना चाहिए. ऐसा करना लोगों के लिए घातक हो सकता है. वह कोरोना वायरस के चपेट में आ सकते है. “

मस्जिद दोबारा हो सकती है बंद

राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 के पॉजिटिव मामलों में बढ़ोतरी के कारण बुखारी, जामा मस्जिद को अस्थायी रूप से बंद करने वाले हैं. इसी बीच बुखारी के लिए एक दुखद खबर भी आई है. उनके सचिव अमनुल्लाह का 57 वर्ष उम्र के कोरोना वायरस के कारण निधन हो गया. बुखारी ने बताया कि अमनुल्लाह 20 वर्ष से अधिक समय से शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी के सचिव थे. बीते 23 जून को उन्हें कोविद-19 पॉजिटिव का परीक्षण करने के बाद सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उन्हें दिल की बीमारी, डाइबेटीज और लिवर की बीमारी भी थी. अस्वस्थ्य होने के कारण वह पिछले तीन-चार महीनों से घर पर थे.

मस्जिद बंद करने के लिए मांगी राय

शाही इमाम के कार्यालय के एक अधिकारी ने कहा, “मंगलवार की रात एक संदेश भेजा गया था, जो मस्जिद को बंद करने मामले पर लोगों की राय मांग रहा था. ज्यादातर लोग कोविद -19 संकट के खत्म होने तक मस्जिद को बंद करने के पक्ष में रहे हैं. लोग सोशल मीडिया पर अपने विचार साझा कर रहे हैं. इस बारे में निर्णय बाद में लिया जाएगा क्योंकि परामर्श जारी है और अन्य मस्जिदें भी इसका अनुसरण कर सकती है.”

Anjali Kumari

Aspiring news reporter and radio jockey.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: