Jagannath Rath Yatra 2021: बिन श्रद्धालुओं के शुरू हुई जगन्नाथ रथ यात्रा, PM मोदी ने बधाई दी

ओडिशा और गुजरात में भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा शुरू हो गई है. ओडिशा के पुरी और गुजरात के अहमदाबाद में भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा निकाली जा रही है. कोरोना वायरस की वजह से इस साल भी भगवान जगन्नाथ रथ यात्रा में बिना श्रद्धालुओं के हुजूम के निकाली जा रही है, क्योंकि श्रद्धालुओं को इस यात्रा में शामिल होने की अनुमति नहीं है. भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा के लिए सिर्फ मंदिर परिसर से जुड़े लोग और कुछ अन्य लोग ही शामिल हैं.

पीएम मोदी ने दी बधाई

जगन्नाथ रथयात्रा को लेकर पीएम मोदी ने देशवासियों को बधाई दी है. उन्होंने ट्वीट में लिखा, ‘रथ यात्रा के विशेष अवसर पर सभी को बधाई. हम भगवान जगन्नाथ को नमन करते हैं और प्रार्थना करते हैं कि उनका आशीर्वाद सभी के जीवन में अच्छा स्वास्थ्य और समृद्धि लाए. जय जगन्नाथ!’

खबरों की माने तो इन पवित्र रथों को सोमवार दोपहर तीन बजे रवाना किया जाना है. प्रशासन नें श्री जगन्नाथ मंदिर से श्री गुंडिचा मंदिर के बीच ग्रांड रोड पर किसी के भी आने जाने पर रोक लगा दी है. सुरक्षा का ध्यान रखते हुए कम से कम 65 दस्तों की तैनाती की गई है.

टीवी पर देखें रथ यात्रा

रथ यात्रा के दौरान सरकार नें लोगों से अपील की है कि लोग घरों से ना निकले, ग्रांड रोड पर भीड़ एकत्र ना करें. इसके बजाए अपने घर पर ही अपने टीवी पर रथ यात्रा का आनंद लें. आज सोमवार 12 जुलाई से जगन्नाथ रथ यात्रा शुरू होने जा रहा है जो 20 जुलाई तक चलेगा.

रथ यात्रा का बड़ा महत्व

हिन्दू धर्म में रथ यात्रा का बहुत बड़ा महत्व है. हर साल आषाढ़ मास के शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि को ही भव्य उत्साह के साथ जगन्नाथ रथ यात्रा निकाली जाती है, यही विधान है. रथ यात्रा को निकलकर भगवान जगन्नाथ को गुंडिचा माता के मंदिर पहुँचाया जाता है , यहां वो 7 दिनों तक विश्राम करते हैं. जिसके बाद उनकी वापसी होती है.

The Depth

TheDepth is India's own unbiased digital news website.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: