सेंट्रल विस्टा नहीं, ये विनाशक विस्टा हैः Congress

पूरे देश में कोराना वायरस के चलते हाहाकार मचा हुआ है। दिल्ली में तो स्थिति और भी खराब है। कोरोना वायरस की महामारी के बीच दिल्ली में लॉकडाउन लागू है लेकिन इसके बावजूद सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट पर निर्माण कार्य जारी है। सेंट्रल विस्टा पर कार्य को भी जरूरी सेवाओं में शामिल कर काम जारी रखा गया है। इस बीच इसे लेकर सियासी घमासान भी जारी है।

कांग्रेस लगातार इसे तत्काल रोकने की मांग कर रही है। सरकार के अड़ियल रवैये के कारण कांग्रेस ने अब सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट को नया नाम दे दिया है। कांग्रेस ने इसे विनाशक विस्टा का नाम दिया है।

शनिवार को कांग्रेस की ओर से #VinashakVista के साथ ट्वीट किया गया, ” हमारे शहीदों की याद में आप विश्वासघात की विरासत बनाते हैं। हमारे प्रतिरोध के पराक्रम के आगे आपका स्मारकीय अहंकार चरमरा जाएगा।”

इससे पहले भी कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शुक्रवार को सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट को लेकर कहा, ”सेंट्रल विस्टा एक आपराधिक बर्बादी है। लोगों की जिंदगियां केंद्र में रखिए – एक नया घर पाने के लिए अपना अंधा अहंकार नहीं!’’

सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट की घोषणा सितंबर 2019 में की गई थी. इसके तहत त्रिकोण के आकार वाले नए संसद भवन का निर्माण किया जाएगा जिसमें 900 से 1200 सांसदों के बैठने की व्यवस्था होगी. सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के हिस्से के तौर पर नया प्रधानमंत्री आवास भी बनना है.

The Depth News से बातचीत करते हुए कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा कि, ”जब पूरा देश ऑक्सीजन और अस्पतालों में बेड के लिए त्राहि-त्राहि कर रहा है, तब राजा अपना महल बना रहा है। इस बात को देश और इतिहास कभी नहीं भूलेगा।”

उधर कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के निर्माण कार्य रोकने की मांग पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई से इंकार कर दिया है। जस्टिस विनीत शरण व दिनेश माहेश्वरी की बेंच ने याचिकाकर्ता को कहा कि वह उक्त मामले में दिल्ली हाईकोर्ट के समक्ष याचिका लगाए। हाईकोर्ट याचिकाकर्ता की मांग पर विचार कर उचित निर्णय ले।

The Depth

TheDepth is India's own unbiased digital news website.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: