इजराइल और हमास के बीच बनी संघर्ष विराम पर सहमति, 11 दिनों से दागे जा रहे थे रॉकेट-मिसाइल

इजराइल और हमास के बीच 11 दिन तक चले निर्मम युद्ध पर विराम लग गया है. इजराइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की सुरक्षा कैबिनेट ने गाजा पट्टी में 11 दिन से चल रहे सैन्य अभियान को रोकने के लिए एकतरफा संघर्ष विराम को मंजूरी दे दी है. इजराइली मीडिया ने बृहस्पतिवार देर रात यह जानकारी दी. दूसरी तरफ हमास की तरफ से भी इस संघर्ष विराम को माना गया है और फैसला लिया गया कि कैबिनेट बैठक के तीन घंटे बाद देर रात 2 बजे से इस संघर्ष विराम को लागू किया जाएगा. इस 11 दिन के खूनी संघर्ष में गाजा पट्टी में बड़े पैमाने पर बर्बादी हुई, इजराइल के अधिकांश हिस्सों में जीवन थम गया था और 200 से अधिक लोगों की जानें गईं.

इजराइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की सुरक्षा कैबिनेट ने गाजा पट्टी में 11 दिन से चल रहे सैन्य अभियान को रोकने के लिए एकतरफा संघर्षविराम को मंजूरी दे दी है। इजराइली मीडिया ने बृहस्पतिवार देर रात यह जानकारी दी। दूसरी तरफ हमास की तरफ से भी इस संघर्षविराम को माना गया है और फैसला लिया गया कि कैबिनेट बैठक के तीन घंटे बाद देर रात 2 बजे से इस संघर्षविराम को लागू किया जाएगा।

अमेरिका ने किया फैसले का स्वागत

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने भी इस फैसले का स्वागत किया है. ” बाइडन ने व्हाइट हाउस में कहा, “ मेरा मानना है कि फलस्तीनियों और इजराइलियों को समान रूप से सुरक्षित जीवन जीने का तथा स्वतंत्रता, समृद्धि एवं लोकतंत्र के समान उपायों को हासिल करने का अधिकार है. मेरा प्रशासन उस दिशा में हमारी शांत एवं अनवरत कूटनीति को जारी रखेगा. मेरा मानना है कि हमारे पास प्रगति करने के वास्तविक अवसर हैं और मैं इसपर काम करने के लिए प्रतिबद्ध हूं.” बाइडन ने कहा कि अमेरिका संयुक्त राष्ट्र के साथ मिलकर गाजा के लोगों को त्वरित मानवीय सहायता उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है.

लोगों में दिखी खुशी

स्थानीय समयानुसार बुधवार देर रात दो बजे जैसे ही संघर्षविराम प्रभावी हुआ, गाजा की सड़कों पर जोशपूर्ण माहौल देखने को मिला. लोग घरों से बाहर आ गए, कुछ जोर-जोर से “अल्ला हू अकबर” बोलने लगे या अपनी बालकनी से सीटी बजाने लगे. कई लोगों ने हवा में गोलियां चलाईं और इस विराम पर जश्न मनाया. दोनों धुर विरोधियों के बीच पिछले तीन संघर्षों की तरह ही, लड़ाई का यह ताजा सिलसिला भी बिना किसी निष्कर्ष के समाप्त हुआ.

10 मई से शुरू 20 मई को खत्म हुई लड़ाई

इजराइल और हमास के बीच 10 मई को लड़ाई की शुरुआत हुई जिसके बाद दोनों तरफ से हवाई हमले का सिलसिला शुरू हो गया. इजराइल के मुताबिक उसने हवाई हमलों और रॉकेट्स के जरिए हमास के ठिकानों और लंबे-चौड़े सुरंग नेटवर्क को भी ध्वस्त करने में सफलता हासिल की.

The Depth

TheDepth is India's own unbiased digital news website.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: