Covid-19: देश में 24 घंटे में 3,37,704 नये मामले, 488 मरीजों की गई जान

देश भर में कोरोना (Covid-19) के नए मामलों में बढ़ोतरी ही देखी जा रही है. ताजा आंकड़ों के मुताबिक देश में कोरोना वायरस संक्रमण के 3,37,704 नये मामले सामने आने के बाद कोविड-19 के कुल मामले बढ़कर 3,89,03,731 हो गए हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से शनिवार सुबह तक के आंकड़ों के मुताबिक इनमें वायरस के ओमीक्रोन स्वरूप के 10,050 मामले भी शामिल हैं. सुबह आठ बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक उपचाराधीन मरीज बढ़कर 21,13,365 हो गए हैं जो पिछले 237 दिनों में सर्वाधिक हैं जबकि 488 और मरीजों की मौत के साथ मृतक संख्या बढ़कर 4,88,884 हो गई है.

राहत की खबर

एक दिन पहले 3 लाख 47 हज़ार केस सामने आए थे. थोड़ी राहत की बात ये है कि दिल्ली और मुंबई जैसे महानगरों में कोरोना के केस लगातार घट रहे हैं. लेकिन कुछ दक्षिणी राज्यों ने देश की चिंता बढ़ा दी है. शुक्रवार को कर्नाटक में कोरोना के 48,049 नए मामले सामने आए और 22 और लोगों की महामारी से मौत हो गई. राज्य में सामने आए नए मामलों में 29,068 अकेले बेंगलुरु नगर से हैं, शहर में महामारी से और 6 लोगों की मौत भी हुई है. उधर, तमिलनाडु में शुक्रवार को संक्रमण के 29,870 नए मामले सामने आए ,जबकि 33 और लोगों की महामारी से मौत हो गई.

Booster dose
Corona Vaccine Center
Supreme Court के 10 जज समेत कई कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव

शुक्रवार को देशभर में कोरोना से 703 लोगों की मौत हुई है. जबकि एक दिन पहले 491 लोगों की मौत हुई थी. ओमिक्रॉन वेरिएंट के मामलों में 3.63 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है. महाराष्ट्र में शुक्रवार को कोविड-19 के 48,270 नए मामले सामने आये जिनमें ओमीक्रोन के 144 मामले शामिल हैं. वहीं 52 और मरीजों की संक्रमण से मौत हो गई. दैनिक कोविड-19 संक्रमण एक दिन पहले की तुलना में 2,073 बढ़ गया.

मरने वालों में वैक्‍सीन न लगवाने वाले मरीजों की संख्‍या ज्‍यादा

कोरोना से मरने वालों में वैक्‍सीनेटेड लोगों के मुकाबले टीका न लगवाने वालों या वैक्‍सीन का एक डोज लेने वालों की संख्‍या कहीं ज्‍यादा है. यूएस सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CDC) के अध्‍ययन में भी कहा गया था कि कोरोना से मौतों में बिना वैक्‍सीनेशन वाले लोगों की संख्‍या बढ़ने की पूरी संभावना है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक लोकनायक जयप्रकाश अस्‍पताल के मेडिसिन डायरेक्‍टर डॉ. सुरेश कुमार के मुताबिकअभी तक अस्‍पताल में भर्ती किए गए गंभीर मरीजों में देखा गया है कि कोरोना से संक्रमित होने के बाद सबसे ज्‍यादा उन मरीजों की मौत हुई है जिन्‍होंने या तो कोरोना की वैक्‍सीन नहीं ली है या फिर एक ही डोज लगवाई है.

The Depth

TheDepth is India's own unbiased digital news website.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: