पाकिस्तान में पहली बार हिंदू महिला ने पास की सीविल परीक्षा, बनेंगी असिस्टेंट कमिश्नर

पाकिस्तान में पहली बार एक हिंदू महिला ने प्रतिष्ठित सेंट्रल सुपीरियर सर्विसेज (सीएसएस) परीक्षा पास की है। वह विशिष्ट पाकिस्तान प्रशासनिक सेवा (पीएएस) के लिए चयनित हुई हैं। बताया जा रहा है कि पाकिस्तान के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि अल्पसंख्यक समुदाय से आने वाली कोई हिंदू लड़की ने सीएसएस परीक्षा पास की हो।

सना रामचंद्र पाकिस्तान की पहली हिंदू महिला हैं, जिन्होंने प्रितिष्ठित परीक्षा सेन्ट्रल सुपिरियर सर्विस यानि सीएसएस पास की हो। डॉ. सना रामचंद्र सीएसएस पास कर पाकिस्तान एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस के लिए चुनी गई हैं। डॉ. सना रामचंद्र एमबीबीएस कर चुकी हैं और अभी सिंध प्रांत के शिकारपुर जिले में प्रैक्टिस भी करती हैं। इसके साथ ही डॉ. सना रामचंद्र मास्टर्स इन सर्जरी भी कर रही हैं।

सीएसएस की परीक्षा पास करने वाले 221 अभ्यर्थियों में शामिल हैं। 18,553 परीक्षार्थियों ने यह लिखित परीक्षा दी थी। विस्तृत चिकित्सा, मनोवैज्ञानिक और मौखिक परीक्षा के बाद अंतिम चयन किया गया।

मेरिट निर्धारित होने के बाद अंतिम चरण में समूह आवंटित किए गए। रिजल्ट आने के बाद रामचंद ने ट्वीट किया- वाहे गुरू जी का खालसा वाहे गुरू जी की फतेह। इसके साथ ही उन्होंने लिखा- मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है अल्लाह के फजल से मैंने सीएसएस 2020 की परीक्षा पास कर ली है और पीएएस के लिए मेरा चयन हो गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: