गुजरात : भरूच कोविड अस्पताल में आग लगने से कोरोना संक्रमित 18 मरीजों की मौत

गुजरात के भरूच में एक अस्पताल में शुक्रवार देर रात आग लगने से कोरोना वायरस के कम से कम 18 मरीजों की मौत हो गई। हादसे की दिल दहला देने वाली तस्वीरों में कुछ मरीजों के शव तक स्ट्रेचरों और बेड पर झुलसते हुए नजर आए। एक अधिकारी ने बताया कि चार मंजिला वेलफेयर अस्पताल में देर रात एक बजे हुए इस हादसे के वक्त करीब 50 अन्य मरीज भी थे जिन्हें स्थानीय लोगों एवं दमकल कर्मियों ने सुरक्षित बाहर निकाला।

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा, मैं भरूच अस्पताल में आग लगने से जान गंवाने वाले मरीजों, डॉक्टरों और अस्पताल के कर्मचारियों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं. राज्य सरकार प्रत्येक दुर्घटना पीड़ित के परिवार को 4 लाख रुपये की सहायता देगी.

एक पुलिस अधिकारी ने बताया, “सुबह 6.30 बजे की सूचना के अनुसार, हादसे में मरने वालों की संख्या 18 थी. आग लगने के तुरंत बाद, हमने 12 लोगों की मौत की पुष्टि की थी.” भरूच के एसपी राजेंद्रसिंह चुडास्मा ने बताया था कि COVID-19 वार्ड में 12 मरीजों की मौत आग और धुएं के कारण हुई. इसके बाद मृतकों की संख्या बढ़ गई.

मरीजों को दूसरे अस्पताल में किया गया शिफ्ट
यह अस्पताल भरूच-जंबूसर राजमार्ग पर स्थित है, जो राज्य की राजधानी अहमदाबाद से लगभग 190 किमी दूर है और एक ट्रस्ट द्वारा चलाया जा रहा है. अधिकारी ने कहा कि आग लगने के कारण का पता नहीं चल पाया है. एक घंटे के भीतर आग पर काबू पाने के साथ ही लगभग 50 मरीजों को स्थानीय लोगों द्वारा बचाया गया. उन्हें नजदीकी अस्पतालों में शिफ्ट कर दिया गया है.

भरुच में COVID केयर सेंटर के ट्रस्टी ज़ुबेर पटेल ने कहा, यह न केवल हमारे लिए बल्कि पूरे भरूच के लिए एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना है. पुलिस और प्रशंसा की मदद से, हम रोगियों को अन्य अस्पतालों में शिफ्ट कर रहे हैं. घटना में 14 मरीजों और 2 स्टाफ नर्सों की जान चली गई.

The Depth

TheDepth is India's own unbiased digital news website.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: