कोरोना से लड़ने के लिए PPE कीट, मास्क को GST फ्री करे सरकार, IYC की मांग

इंडियन यूथ कांग्रेस ने केंद्र सरकार से कोरोना वायरस से लड़ाई में इस्तेमाल होने वाले सामानों से GST हटाने की मांग की है। अभी तक सरकार इन बेहद जरूरी सामानों पर 5-12 फीसदी तक GST वसूल रही है। इंडियन यूथ कांग्रेस प्रेसिडेंट श्रीनिवास बीवी ने इस संबंध में एक ट्वीट किया।

श्रीनिवास ने #GSTFreeCorona #SOSIYC के साथ ट्वीट करते हुए लिखा कि, ”मैं सरकार से हाथ जोड़कर अपील करता हूँ, इस आपदा में जान बचाने वाले इन सभी सामानों से GST हटाकर लोगों को सहूलियत दे”. जान बची तो खजाना बाद में भी भरा जा सकता है.

यूथ कांग्रेस प्रेसिडेंट के ट्वीट के बाद यूथ कांग्रेस के स्टेट प्रेसिडेंटों समेत अन्य कार्यकर्ताओं ने भी इसका समर्थन करते हुए ट्वीट किया।

सभी ने कोरोना वायरस से लड़ाई में इस्तेमाल होने वाले सामानों जैसे मास्क, हैंड सैनेटाइजर, पीपीई कीट, फेस शिल्ड, ऑक्सीजन सिलेंडर, गलव्स, दवाईयां, वैक्सीन आदि से GST हटाने की मांग दोहराई।

इससे पहले गुरूवार को ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने भी केंद्र सरकार से वैक्सीन पर GST में छूट देने की मांग की थी। मुख्यमंत्री पटनायक ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को एक खत भी लिखा था, जिसमें उन्होंने 18 से 44 साल के उम्र के लोगों को दिए जाने के लिए राज्यों को मिलने वाली वैक्सीन पर जीएसटी छूट की मांग की थी।

नवीन पटनायक ने अपने पत्र में लिखा है कि, “भारत कोविड -19 महामारी के खिलाफ एक मुश्किल लड़ाई लड़ रहा है। यह युद्ध जैसी स्थिति है और हमें हमारे सभी संसाधनों को कोरोनो के खिलाफ सिर्फ जीत के लिए इस्तेमाल करना होगा। यह एक बार की लड़ाई नहीं है।

हमारे पास कोविड के खिलाफ इस लड़ाई में एक सतत चुनौती होगी जब तक कि ट्रीटमेंट और टीकाकरण पूरा नहीं हो जाता।” नवीन पटनायक ने कहा है कि जीएसटी की वजह से राज्यों को वैक्सीन काफी महंगी पड़ रही है, इसलिए जीएसटी पर पूरी तरह से छूट देने की आवश्यकता है।

The Depth

TheDepth is India's own unbiased digital news website.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: