रामदेव के खिलाफ सड़क पर उतरे डॉक्टर

नई दिल्ली. योग गुरु बाबा रामदेव के एलोपैथी वाले बयान के खिलाफ आज डॉक्टरों को सड़क पर उतरना पड़ा. दिल्ली में डॉक्टरों ने मंगलवार को एम्स के बाहर प्रदरेशन किया. डॉक्टरों का कहना है कि बाबा रामदेव अपने बयान से ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई में जान गंवाने वाले 1200 डॉक्टरों की मौत का मजाक उड़ाया है.

कोरोना वायरस के नए लक्षण आए सामने, नजरअंदाज करने की न करें गलती

बता दें कि बीते दिनों बाबा रामदेव ने एलोपैथी और इसके प्रेक्टिश्नर डॉक्टरों के खिलाफ बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि एलोपैथी मूर्खतापूर्ण सांइस है. वो सिर्फ यही नहीं रूके. उन्होंने आगे कहा कि एलोपैथी दवाएं लेने के बाद लाखों की संख्या में मरीजों की मौत हुई. बाबा रामदेव सीधेतौर पर एलोपैथी पर निशाना साधते रहे है.

कोरोना वायरस से कुंवारे लोगों पर मौत का अधिक खतरा

प्रदर्शन के दौरान डॉक्टरों ने कहा कि कोरोना संक्रमण से जूझते मरीजों का इलाज डॉक्टर ही कर रहे हैं. मरीजों को इलाज मुहैया कराने के दौरान कई डॉक्टरों और मेडिकल स्टाफ की जान गई है. ये सभी कोरोना वॉरियर्स हैं. बाबा रामदेव इन कोरोना वॉरियर्स के खिलाफ बयान देकर उनका अपमान कर रहे हैं. उनका ये बयान बेहद निंदनीय है.

इन टिप्स से हंसते-हंसते हरा देंगे कोरोना

डॉक्टरों का कहना है कि बाबा रामदेव एक प्रतिष्ठित व्यक्ति हैं. उनकी बातों का जनता पर गहरा असर होता है. ऐसे में उनको इस तरह की भाषा का प्रयोग करना शोभा नहीं देता है. वो ये सब अपने उन प्रोडक्ट्स और दवाईयों की बिक्री बढ़ाने के लिए बोल रहे हैं जिनका न ही क्लीनिकल ट्रायल हुआ है. न ही विश्व स्वास्थ्य संगठन से इस्तेमाल करने की अनुमति तक नहीं मिली है.

मोरल डाउन कर रहे बाबा

डॉक्टरों के मुतबाकि बाबा रामदेव की बातों से डॉक्टरों और मेडिकल स्टाफ का मॉरल डाउन होता है. यहां तक की जनता के मन में भी डॉक्टरों व मेडिकल स्टाफ की गलत छवि बनती है. इस प्रदर्शन के दौरान डॉक्टरों ने मांग की कि बाबा रामदेव अपने शब्दों के लिए बिना शर्त माफी मांगे. अगर वो ऐसा नहीं करते हैं तो उन्हें गिरफ्तार किया जाए.

ट्वीटर पर छाया #ArrestRamdevbaba

वहीं ट्वीटर पर एम्स रेजिडेंट एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष डॉ. अमरिंदर सिंह मल्ही ने ट्वीट किया. उन्होंने ट्वीट किया कि एम्स के गेट नंबर 1 के बाहर डॉक्टरों ने बाबा रामदेव के खिलाफ प्रदर्शन किया. बाबा रामदेव ने 1200 डॉक्टरों की शहादत और हेल्थकेयर वर्कर्स पर सवाल उठाए हैं. उन्हें गिरफ्तार किया जाना चाहिए.

The Depth

TheDepth is India's own unbiased digital news website.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: