कोरोना काल में लगातार किया काम, 3 महीने से नहीं मिली सैलरी, CM से लगाई गुहार

तरी दिल्ली नगर निगम के शिक्षकों ने अब दिल्ली के मुख्यमंत्री अरिवंद केजरीवाल से सैलरी को लेकर गुहार लगाई है. इन शिक्षकों का दावा है कि वे कोरोना काल में भी लगातार काम कर रहे हैं. इसके बावजूद भी उनकी सैलरी नहीं दी जा रही है. इसी मांग को लेकर दिल्ली नगर निगम शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री समेत, उत्तरी दिल्ली नगर निगम के महापौर, कमिश्नर के अलावा मानवाधिकार आयोग को भी एक ई-मेल भेजा है. इसके जरिए मांग की गई है कि जल्द से जल्द बकाया तीन महीने की सैलरी शिक्षकों को दिलाई जाए.

उत्तरी दिल्ली नगर निगम के स्कूलों में लगभग 8500 शिक्षक कार्यरत हैं. इन सभी को अंतिम बार सैलरी फरवरी माह में मिली थी. उसके बाद अब तक सैलरी नहीं मिली है.

शिक्षकों को मिले 50 लाख का मुआवजा, वीडियो में देखे मांग

नगर निगम शिक्षक संघ के महासचिव रामनिवास सोलंकी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री को भेजे गए ई-मेल में लिखा है कि ”तीन महीने से ज्यादा हो गए हैं लेकिन उन्हें सैलरी नहीं मिल पाई है. दिल्ली में कोरोना महामारी अपने पूरे प्रचंड रूप में फैली हुई है. आप दिल्ली के मुखिया हैं. आप ऑटो चालकों को 5000 हजार की मदद दे रहे हैं. दिल्ली के गरीब लोगों को मुफ्त राशन बांटने जा रहे हैं. आपकी इसी दिल्ली में एक स्थानीय निकाय उत्तरी दिल्ली नगर निगम भी आपके अधीन है जिसमें 8500 शिक्षकों को तीन माह से सैलरी नहीं मिली है. जिसके कारण शिक्षक मानसिक रूप में मनोरोगी बन गए हैं.”

शिक्षकों का कहना है कि सैलरी न मिलने के कारण उनकी आर्थिक स्थिति दयनीय होने लगी है. कुछ शिक्षक तो इसी कारण मनोरोगी भी होने लगे हैं.

कोरोना से जान गंवाने वाले शिक्षकों के आश्रितों के लिए दिल्ली सरकार से लगाई गुहार

सोलंकी ने लिखा है कि जब आपके पास कोई दिक्कत आती है तो आप केंद्र से मदद मांगते हैं. चाहे आक्सीजन हो वेंटीलेटर हो आईसीयू बेड की अवश्यकता हो और केंद्र आपकी मदद भी करता है. जिसके लिए आप उनका धन्यवाद भी करते हैं. हम 8500 शिक्षक भी आपसे मांग करते हैं कि आप निगमों को जो त्रिमासिक किस्त (फंड) जो अप्रैल के प्रथम सप्ताह में देते थे वो आज 11 मई तक आपने नहीं दी है, को तुरंत जारी करें और साथ में जैसे आप अतिरिक्त आक्सीजन केंद्र से मांग रहे हैं उसी प्रकार हम शिक्षकों को तीन माह के बकाया सैलरी के लिए भी अतिरिक्त फंड जारी करें. ताकि हम कोरोना योद्धा फ्रंट लाइन वर्कर का भी होंसला बढ़े और हम सभी और अधिक उत्साह से इस लड़ाई को लड़ सकें.

The Depth

TheDepth is India's own unbiased digital news website.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: