कोरोना वायरस का नया वेरिएंट अधिक खतरनाक, नए लक्षण भी आए सामने

नई दिल्ली. दुनिया भर में कोरोना वायरस के मामले फिर से बढ़ रहे हैं. भारत में भी कोरोना वायरस की दूसरी लहर सामने आ गई है. कोरोना की दूसरी लहर के कारण भारत में लोग सकते में आ गए हैं. बीते दिनों 24 घंटों में 1 लाख से भी अधिक नए मामले सामने आए हैं. भारत में लोगों की लापरवाही के कारण ही डबल म्यूटेंट फैल रहा है.

इस दूसरी लहर के आने से भारत में डॉक्टर्स और हेल्थ एक्सपर्ट्स बहुत परेशान हैं. कोरोना की नई लहर को अधिक खतरनाक और संक्रामक माना जा रहा है. कोरोना वायरस के इस नए म्यूटेंट में नए लक्षण भी देखने को मिले हैं.

भारत में फैले इस कोरोना वायरस के नए लक्षण भी देखने को मिल रहे हैं. डॉक्टरों के मुताबिक कई मरीजों में कुछ नए लक्षण भी दिख रहे हैं. इन लक्षणों में पेट दर्द, मिचली, उल्टी आना और ठंड लगना भी शामिल है. जबकि भारत में आई पहली लहर में कफ, बुखार जैसे लक्षण देखने को मिल रहे थे. वहीं अब उल्टी, ठंड लगने की शिकायत होने पर भी डॉक्टर कोरोना टेस्ट करवा रहे हैं.

वहीं कोरोना वायरस की दूसरी लहर में ज्वाइंट पेन, कमजोरी, भूख की कमी, मांसपेशियों में दर्द की शिकायत मरीजों में सामने आ रही है. खास बात है कि कोरोना के नई लक्षण सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि यूके समेत यूरोप के अन्य देशों में सामने आए हैं. अब भारत में भी कोरोना की इस लहर के साथ मामले बढ़ रहे हैं.

भारत में कोरोना के अधिकतर मरीज कम लक्षण या बिना लक्षण के ही सामने आ रहे हैं. यहां कोरोना बार बार अपना न सिर्फ रूप बदल रहा है बल्कि इससे लोग कई तरह से प्रभावित भी हो रहे हैं. कोरोना के नए म्यूटेंट का खतरा उन लोगों को अधिक है जिन्हें पहले से ही कोई बीमारी है. कोरोना के पहले वैरिएंट में भी ऐसा ही खतरा सामने आया था.

खासतौर से डायबीटिज, अस्थमा, ह्दय की बीमारी के मरीजों को कोरोना का अधिक खतरा देखने में मिल रहा है. ऐसे लोगों को अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत भी पड़ सकती है. ऐसे में मरीजों को अपना अधिक ख्याल रखने की जरूरत है. कोरोना वायरस कम इम्यूनिटी वालों को अपनी गिरफ्त में अधिक जल्दी ले रहा है.

हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो कोरोना वायरस का नया वेरिएंट कई मामलों में अधिक खतरनाक है. कोरोना वायरस का नया वेरिएंट मरीज के शरीर पर अलग अलग तरह से हमला कर रहा है. नया वायरस अधिक संक्रामक है. ये फेंफड़ों और श्वसन तंत्र में आसानी से फैल रहा है. ये मरीज को निमोनिया का शिकार भी बना रहा है. इससे कोरोना अधिक घातक बन रहा है.

लक्षणों को नजरअंदाज करने से बचें

कोरोना वायरस के नए वेरिएंट में गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल संबंधित लक्षण भी सामने आ रहे हैं. ये लक्षण पहले नहीं सामने आए थे. अब डॉक्टरों का कहना है कि वायरस का नया वेरिएंट पाचन तंत्र को कमजोर करता है. पाचन तंत्र में ACE2 शामिल हो जाता है. इससे डायरिया, पेट में ऐंठन की समस्या, जी मचलाना, पेट दर्द और उल्टी की शिकायत भी देखने को मिलती है. अबतक जहां कोरोना वायरस का शिकार बुजुर्ग और गर्भवती महिलाएं अधिक हो रही थी, अब इसका शिकार युवा और बच्चे भी हो रहे हैं.

The Depth

TheDepth is India's own unbiased digital news website.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *