अटारी-वाघा बॉर्डर पर रिट्रीट सेरेमनी का मजा नहीं ले सकेंगे पर्यटक

अमृतसर| भारत पाकिस्तान के अटारी-वाघा बॉर्डर पर रोज शाम को होने वाली रिट्रीट सेरेमनी में अब जनता हिस्सा नहीं ले सकेगी। छह जनवरी से प्रशासन ने रिट्रीट सेरेमनी में जनता के जाने पर रोक लगा दी है। दरअसल सरकार और प्रशासन ने कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के कारण ये फैसला किया है।

पूना माड़ाकाल : तो ऐसे बदल रहा है दंतेवाड़ा

इस संबंध में अधिकारियों ने गुरुवार को कहा कि पंजाब में अमृतसर के पास अटारी में अटारी-वाघा संयुक्त चेक पोस्ट पर प्रतिदिन होने वाले ध्वजारोहण रिट्रीट समारोह के सार्वजनिक दर्शन को एहतियात के तौर पर अनिश्चित काल के लिए निलंबित कर दिया गया है।

Coronavirus: भारत में कोरोना वायरस के 58,097 नए मामले

सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के एक अधिकारी ने मीडिया को जानकारी दी कि अमृतसर से लगभग 30 किलोमीटर दूर अटारी वाघा जेसीपी में अगले आदेश तक के लिए जनता को जाने की अनुमति नहीं होगी। बता दें कि ये पहला मौका नहीं है जब रिट्रीट सेरेमनी को स्थगित किया गया है।

मौसम बदलने से कोरोना वायरस का कहर नहीं होगा खत्मः WHO

इससे पहले वर्ष 2021 में भी बीएसएफ ने कोरोना वायरस संक्रमण के कारण रिट्रीट सेरेमनी में जना के जाने पर रोक लगाई थी। मार्च 2020 से लगी रोक को सितंबर 2021 तक जारी रखा गया था। भारत और पाकिस्तान पारंपरिक रूप से कई वर्षों से सीमा पर ध्वजारोहण समारोह की मेजबानी कर रहे हैं और इस कार्यक्रम में दोनों देशों के लोग बड़ी संख्या में भाग लेते है।

The Depth

TheDepth is India's own unbiased digital news website.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: