मुंबई में अब ड्रोन करेगा मलेरिया और डेंगू कर नियंत्रित

मुंबई| मुंबई में अब डेंगू और मलेरिया की निगरानी के लिए बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने ड्रोन तैनात किया है। बीएमसी ने ये ड्रोन शहर के धोबी घाट इलाके में लगाया है। इससे मलेरिया और डेंगू जैसी मच्छर जनित बीमारियों को फैलने से रोका जा सकेगा।

दरअसल शहर में डेंगू के मामले बढ़ने के बाद स्वच्छता अभियान चलाया गया था। बीते साल आगस्त में डेंगू के मात्र 10 मामले ही सामने आए थे। वहीं इस साल ये मामले बढ़कर 130 पर पहुंच गए है। जानकारी के मुताबिक अधिकतर मामले बीएमसी बी, एफ/साउथ और एच/वेस्ट वार्ड से हैं।

मुंबई में मलेरिया के लगभग तीन हजार मामले, गैस्ट्रोएंटेराइटिस के 275 से अधिक, लेप्टोस्पायरोसिस और हेपेटाइटिस के 35 से अधिक मामले सामने आए है। वहीं एच1एन1 के भी 1 दर्जन से अधिक मामले सामने आए है। हालांकि राहत की बात है कि किसी की मौत की कोई सूचना नहीं है।

इस संबंध में मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर और कार्यकारी स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मंगला गोमारे ने मीडिया को बताया कि संबंधित बीमारियों और उन्हें रोकने के उद्देश्य से शहर में बड़े पैमाने पर अभियान जारी है। इसके अलावा मामलों के संबंध में जल्दी पता लगाने, इसके निदान और उपचार पर ध्यान केंद्रित करने की दिशा में काम जारी है।

इसके अलावा सभी अस्पतालों या स्वास्थ्य केंद्रों को रक्त स्मीयर जांच की संख्या बढ़ाने के निर्देश जारी किए जा चुके है। कोरोना संक्रमण की संभावना को खत्म करने के लिए अभियान में कोरोना जांच को भी शामिल किया गया है। जानकारी के मुताबिक मच्छर जनित बीमारियों के आंकड़े वर्ली, महालक्ष्मी, लोअर परेल, एनएम जोशी मार्ग और आसपास के 10 वर्ग किलोमीटर के भीड़भाड़ वाले इलाकों में पिछले साल की तुलना में इस साल अधिक हैं।

वहीं रविवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे भी चिकित्सा समुदाय से आग्रह करचुके हैं कि वो कोरोना संक्रमण के मामलों के अलावा मॉनसून संबंधित बीमारियों पर भी ध्यान केंद्रित करें। वहीं बीएमसी अधिकारियों का कहना है कि मेयर को ड्रोन संचालन, जमा पानी की जांच संबंधित मामलों के लिए विस्तृत प्रस्तुति दी है। इस तरह का अभियान शहर भर में और कई इलाकों में चलाया जा रहा है।

The Depth

TheDepth is India's own unbiased digital news website.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: